Pre-historic Bacteria found in Greenland


वैज्ञानिकों को ऐसे बैक्टीरिया या जीवाणुओं को सक्रिय करने में सफलता मिली है जो कि कम-से-कम 1,20,000 वर्षों से निष्क्रिय पड़े थे.

पूरा किस्सा ये है कि ग्रीनलैंड में ड्रिलिंग के दौरान क़रीब तीन किलोमीटर की गहराई से निकाले गए हिमखंड में दो अलग-अलग प्रजातियों के जीवाणु मिले थे.

हिमखंड के काल के हिसाब से दोनों जीवाणुओं को भी कम-से-कम एक लाख 20 हज़ार वर्ष पुराना माना गया.

सामान्य जीवाणुओं से क़रीब 50 गुना छोटे आकार के इन दोनों जीवाणुओं को बहुत ही धीरे-धीरे सामान्य माहौल में लाया गया. इस प्रक्रिया में महीनों लगे.

एक बार सक्रिय होते ही बैंगनी रंग वाले इन जीवाणुओं ने अपना कुनबा बनाना शुरू कर दिया. यानि पूरी तरह सामान्य जीवन जीने लगे.

इस चमत्कारिक प्रयोग की रिपोर्ट इस हफ़्ते एक अंतरराष्ट्रीय विज्ञान जर्नल में छपी है. इस अध्ययन की अगुआई करने वाली वैज्ञानिक जेनिफ़र लवलैंड-कर्ट्ज़ के अनुसार इस शोध से इस संभावना को बल मिलता है कि मंगल ग्रह या बृहस्पति ग्रह के चाँद यूरोपा के अति-ठंडे माहौल में भी कोई-न-कोई सूक्ष्म जीव मौजूद हो सकता है.

The newly found bacteria lived for the last 120,000 years some three kilometers deep under Greenland ice

The newly found bacteria lived for the last 120,000 years some three kilometers deep under Greenland ice

News Source Image Credits: Wikimedia Commons

An image of the chryseobacterium greenlandensis bacteria which has been buried under the Greenland ice sheet for for nearly 12,000 years

A microscopic image of the chryseobacterium greenlandensis bacteria which has been buried under the Greenland ice sheet for for nearly 120,000 years

हिमखंड

The drilled piece of ice, extracted from around 3 Kms under Greenland.

Advertisements

~ by wienmandu on June 24, 2009.

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

 
%d bloggers like this: